देश – विदेश

न्यू यॉर्क टाइम्स में छपा विज्ञापन

एडवोकेसी ग्रुप द डॉन प्रोजेक्ट द्वारा द न्यू यॉर्क टाइम्स में एक पूर्ण-पृष्ठ विज्ञापन ने टेस्ला के ‘फुल सेल्फ-ड्राइविंग’ (एफएसडी) बीटा सॉ़फ्टवेयर को ‘फॉर्च्यून 500 कंपनी द्वारा बेचा गया अब तक का सबसे खराब सॉ़फ्टवेयर’ कहा है। विज्ञापन सार्वजनिक सड़कों से टेस्ला के एफएसडी बीटा सॉ़फ्टवेयर को हटाने के अभियान के हिस्से के रूप में प्रकाशित किया गया था।विज्ञापन में बताया, “हमने सार्वजनिक सड़कों पर चलने वाली हजारों टेस्ला कारों के लिए क्रैश टेस्ट डमी होने के लिए हमारे परिवारों के लिए साइन अप नहीं किया।”

12,000 डॉलर की कीमत पर, एफएसडी सॉफ्टवेयर टेस्ला वाहनों को केवल नेविगेशन सिस्टम में एक स्थान दर्ज करके राजमार्गों और शहर की सड़कों पर खुद को चलाने में सक्षम बनाता है। हालांकि, सॉफ्टवेयर टेस्ला वाहनों को पूरी तरह से स्वायत्त नहीं बनाता है।

रिपोर्ट्स

टेकक्रंच की रिपोर्ट के अनुसार, एनवाईटी विज्ञापन कैलिफोर्निया मोटर वाहन विभाग द्वारा एलन मस्क द्वारा संचालित इलेक्ट्रिक कार निर्माता को बताए जाने के कुछ ही दिनों बाद आया है कि कंपनी का परीक्षण कार्यक्रम विभाग के स्वायत्त वाहन नियमों के तहत नहीं आता है। अमेरिकी नियामकों ने भी टेस्ला और उसके ऑटोपायलट और एफएसडी बीटा सॉफ्टवेयर सिस्टम के खिलाफ कुछ कार्रवाई शुरू कर दी है।

ऑटो पायलट मोड से हुई घटना की जांच

यूएस नेशनल हाईवे ट्रैफिक सेफ्टी एडमिनिस्ट्रेशन (एनएचटीएसए) भी टेस्ला मॉडल वाई के मालिक की एक रिपोर्ट की जांच कर रहा है, जिसने बताया कि उसका वाहन एफएसडी मोड में बाएं मुड़ते समय गलत लेन में चला गया, जिसके परिणामस्वरूप वाहन दूसरे चालक से टकरा गया। टेस्ला का ऑटोपायलट पहले ही दुनिया भर में लगभग एक दर्जन दुर्घटनाओं में शामिल हो चुका है।ईवी निर्माता ने पिछले साल अक्टूबर में अपने एफएसडी बीटा सॉ़फ्टवेयर के लेटेस्ट वर्जन को इसके जारी होने के एक दिन से भी कम समय बाद झूठी क्रैश चेतावनियों और अन्य मुद्दों के कारण अस्थायी रूप से वापस ले लिया था। यह अब अपने एफएसडी बीटा में नई ड्राइवर सहायता सुविधाएँ लेकर आया है, जहाँ इलेक्ट्रिक कार ट्रैफिक लाइट पर ‘पासिंग लेन से बाहर नहीं निकलेगी’ और ‘रोलिंग स्टॉप प्रदर्शन कर सकती है’।

Related posts

10वीं और 12वीं के छात्रों के लिए स्कूल खुले

GIL TV News

अफगानिस्तान के पूर्व उप-राष्ट्रपति राशिद दोस्तम के बेटे को तालिबान ने अगवा किया

GIL TV News

भारत और भूटान की गाढ़ी दोस्‍ती में ड्रैगन का खलल

GIL TV News

Leave a Comment