Spiritual/धर्म

काशी विश्‍वनाथ धाम को ज्ञानवापी मस्जिद की ओर से मिली 1000 वर्ग फ‍िट जमीन

लंबे समय से काशी विश्‍वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद पक्ष की ओर से काशी विश्‍वनाथ कारीडोर को और भी दिव्‍य और भव्‍य बनाने के लिए एक बड़ी सार्थक पहल सामने आई है। बाबा दरबार को दिव्‍य स्‍वरुप देने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्‍ट काशी विश्‍वनाथ कारीडोर के लिए ज्ञानवापी मस्जिद पक्ष की ओर से 1000 वर्ग फ‍िट जमीन आधिकारिक तौर पर लिखा पढ़ी के बाद सरकारी दस्‍तावेजों में मंदिर के पक्ष में दर्ज कर दी गई है। इस बाबत मंदिर कार्यालय की ओर से भी मस्जिद प्रशासन की ओर से जमीन हस्‍तांतरण की पुष्टि की गई है। जमीन हस्‍तांतरण के बाद अब श्री काशी विश्‍वनाथ मंदिर परिक्षेत्र को भव्‍य बनाने के लिए चल रहे कारीडोर के कार्य के लिए और भी जमीन मिल गई है। इसके बाद बाबा दरबार परिक्षेत्र में लगभग एक हजार वर्ग फ‍िट का और इजाफा हो गया हैै।काशी विश्‍वनाथ मंदिर प्रशासन और ज्ञानवापी मस्जिद पक्ष की ओर से पूर्व में ही इस आशय की सहमति बातचीत के दौरान बनी थी। इसे अमलीजामा बकरीद और सावन माह के ठीक बीच में जमीन का हस्‍तांतरण करने की बात तय होने के बाद इसे मूर्त रूप दिया गया। आखिरकार मंदिर प्रशासन और ज्ञानवापी मस्जिद पक्ष के हिस्‍से की मौजूद जमीन का 1000 वर्ग फ‍िट हिस्‍सा काशी विश्‍वनाथ कारीडोर को सौंप दिया दिया गया। इसके बाद तय समय पर पहल के बाद कारीडोर में 1000 वर्ग फ‍िट का अतिरिक्‍त इजाफा हो गया है। हालांकि, इसके लिए मंदिर पक्ष के द्वारा बांसफाटक के पास इसके सापेक्ष जमीन को ज्ञानवापी मस्जिद पक्ष को सौंपा गया है। माना जा रहा है कि यह जमीन के बदले जमीन देने का मामला होने से इसे कारीडोर के लिए जमीन खरीद का मामला नहीं माना जाएगा। मंदिर प्रशासनिक कार्यालय के अनुसार इस जमीन पर पहले अन्‍य निर्माण हुआ था। अब इसका प्रयोग काशी विश्‍वनाथ धाम कारीडोर के लिए किया जाएगा।

Related posts

धन-दौलत से नहीं समर्पण से प्रसन्न होते हैं ईश्वर

GIL TV News

हरियाली तीज

GIL TV News

सिन्दूर का महत्व

GIL TV News

Leave a Comment