Spiritual/धर्म

जानें वट सावित्री व्रत के दिन महिलाएं क्या करें, क्या पूजा का सही तरीका

Spiritual/धर्म ( GILTV) : वट सावित्री व्रत के दिन सावित्री यमराज से अफने पति के प्राण वापस लेकर आई थी, तभी से वट सावित्री का व्रत ज्येष्ठ मास की अमावस्या पर रखा जाता है। इस दिन महिलाएं सोलह श्रृंगार करके तैयार होती हैं और नई साड़ी, मेंहदी, चूड़ी आदि पहनकर वट वृक्ष की पूजा करती हैं। इस व्रत में वट वृक्ष की पूजा का खास महत्व है।
ऐसा कहा जाता है कि जिस प्रकार वट वृक्ष की उम्र होती है, उतनी ही लंबी उम्र पति की बढ़ें। इस दिन कुछ महिलाएं जहां निर्जला व्रत रखती हैं, वहीं कुछ पूजा और दान करके बायना सास को देकर कथा सुनकर व्रत खोल लेती हैं।

Related posts

सत्कार्य करने की शक्ति देते हैं परमपुरुष

GIL TV News

गोवर्धन पूजा के शुभ मुहूर्त की कुल अवधि 02 घंटे 09 मिनट

GIL TV News

मां विंध्यवासिनी मंदिर के कपाट नवमी तक बंद

GIL TV News

Leave a Comment