Spiritual/धर्म

कालाष्टमी आज, इस दिन भैरवजी की पूजा से दूर होते हैं डर और बीमारियां

Spiritual/धर्म ( GILTV) : हिंदू मान्यता के अनुसार हर महीने के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को कालाष्टमी मनाई जाती है। ज्येष्ठ महीने के कृष्ण पक्ष की कालाष्टमी इस बार 2 जून बुधवार को है, इस दिन भगवान काल भैरव की पूजा की जाती है। भैरव, शिव के गण और पार्वती के अनुचर माने जाते हैं। हिंदू देवताओं में भैरव का बहुत ही महत्व है। भैरव का अर्थ होता है भय को हर के जगत की रक्षा करने वाला। ऐसा भी मान्यता है कि भैरव शब्द के तीन अक्षरों में ब्रह्मा, विष्णु और महेश तीनों की शक्ति समाहित है। इन्हें काशी के कोतवाल भी कहा जाता है। इनकी शक्ति का नाम है ‘भैरवी गिरिजा ,जो अपने उपासकों की अभीष्ट दायिनी हैं। इनके दो रूप है पहला बटुक भैरव जो भक्तों को अभय देने वाले सौम्य रूप में प्रसिद्ध है तो वहीं काल भैरव अपराधिक प्रवृतियों पर नियंत्रण करने वाले भयंकर दंडनायक है।

Related posts

संन्यास के संकल्प का प्रतीक गेरुआ वस्त्र

GIL TV News

शनि की साढ़ेसाती

GIL TV News

भगवान भैरव को प्रसन्न करने के लिए शुभ मुहूर्त

GIL TV News

Leave a Comment