दिल्ली / एनसीआर

नौकरी छूटने के बाद शुरू किया था ठगी का धंधा

नोएडा साइबर थाना पुलिस ने अंगूठे के निशान की क्लोनिंग कर आधार कार्ड के माध्यम से हजारों लोगों के खाते से करोड़ों रुपये निकालने वाले गिरोह के मास्टरमाइंड को गाजियाबाद से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी से विभिन्न बैंकों की चेक बुक, पासबुक, फर्जी रबर फिंगर प्रिंट सहित ठगी से जुड़ा अन्य सामान बरामद किया है।पिछले कुछ समय से नोएडा के सेक्टर-36 साइबर थाना पुलिस को शिकायत मिल रही थी कि नोएडा में आधार इनेबल पैमेंट सिस्टम के माध्यम से लोगों के बैंक खातों से रुपये निकाले जा रहे हैं। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी, आईटी एक्ट सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कर जांच शुरू की। पुलिस ने जांच के दौरान शुक्रवार को गाजियाबाद के क्रॉसिंग रिपब्लिक यूका टॉवर पैरामाउंट सोसाइटी निवासी रोहित त्यागी को गिरफ्तार कर लिया।पुलिस ने आरोपी से 63 पासबुक और चेकबुक, 20 पेनकार्ड, 12 आधार कार्ड, 17 डेबिट कार्ड, 3 बॉयोमीट्रिक मशीन, 1 रबर थंब इंप्रेशन प्रिंटर, 1 पीओएस मशीन, 1 मॉडम, 1 ओटीपी रिसीविंग मशीन, 1 डोंगल, 7 मोबाइल, 1 प्रिंटर, 2 लैपटॉप, 102 फर्जी फिंगर रबर प्रिंट और एक कार बरामद की है।

पुलिस पूछताछ में आरोपी रोहित ने खुलासा किया कि वह रजिस्ट्री ऑफिस में आवेदन करके रजिस्ट्री की कॉपी निकलवा लेता था। दस्तावेजों में मालिक के अंगूठे के निशान होते हैं। आरोपी मालिकों के अंगूठे के निशान की फोटो लेकर रबर थंब प्रिंटर से फर्जी फिंगर प्रिंट तैयार कर क्लोन बना लेता था। फिर लोगों के आधार कार्ड की डिटेल लेकर उनके खाते से रुपये निकाल लेता था। आरोपी ने बताया कि उसने फर्जीवाड़ा कर हजारों लोगों से करोड़ों रुपये की ठगी की है।

Related posts

NEP के तहत विश्वविद्यालय 300 से अधिक कॉलेजों को मान्यता नहीं दे पायेंगे: निशंक

GIL TV News

आज और कल दिल्ली में हो सकती है

GIL TV News

नर्स से दुष्कर्म की कोशिश

GIL TV News

Leave a Comment