Spiritual/धर्म

सरस्वती वंदना और आरती

Spiritual/धर्म (giltv) बसंत पंचमी के दिन देवी सरस्वती की शुभ मुहूर्त में पूजा और वंदना की जाती है। इस दिन सुबह नहाकर मां सरस्वती को पीले फूल अर्पित करें।  इस दिन पीले वस्त्र धारण करने चाहिए। पूजा स्थान पर वाद्य यंत्र व किताबें रखें। इस दिन पीले चावल या पीले रंग का भोजन करें। बच्चों को उच्चारण सिखाने के लिहाज से भी यह दिन बहुत शुभ माना जाता है। छह माह पूरे कर चुके बच्चों को अन्न का पहला निवाला भी इस दिन खिलाया जाता है।

या कुन्देन्दुतुषारहारधवला
या शुभ्रवस्त्रावृता
या वीणावरदण्डमण्डितकरा
या श्वेतपद्मासना।
या ब्रह्माच्युतशंकरप्रभृतिभिर्देवैः सदा वन्दिता
सा मां पातु सरस्वती भगवती निःशेषजाड्यापहा ॥

Related posts

मोक्षदा एकादशी कब है?

GIL TV News

होलिका दहन के समय भद्राकाल की रुकावट नहीं पड़ेगी

GIL TV News

जगन्नाथ पुरी

GIL TV News

Leave a Comment