मनोरंजन

हिंदी फिल्मों में काम करना दिली सुकून देता है: नागार्जुन

 अनुभवी अभिनेता नागार्जुन ने कहा कि जब भी हिंदी फिल्मों की बात आती है तो वह हमेशा ऐसे मौके की तलाश में रहते है जो उन्हें दिली सुकून देता है और यही वजह है कि उन्होंने बॉलीवुड से कई वर्षों की दूरी के बाद ‘‘ब्रह्मास्त्र पार्ट वन : शिवा’’ में काम किया। उन्होंने दो दशक बाद हिंदी सिनेमा में वापसी की है और अयान मुखर्जी द्वारा निर्देशित काल्पनिक पौराणिक कथा पर आधारित फिल्म में अतिथि भूमिका(कैमियो) निभायी है। इस फिल्म में मुख्य भूमिका में रणबीर कपूर और आलिया भट्ट है। नागार्जुन (63) ने एक साक्षात्कार में कहा, ‘‘मुझे बेहद शानदार भूमिकाएं मिल रही थीं। मुझे हैदराबाद में रहना पसंद है। मैंने हमेशा बॉलीवुड में खास भूमिकाएं निभायी हैं। मैंने शुरुआत से जो भी किया है, उसमें मेरे लिए सबसे अहम लोगों का मनोरंजन करना है। जो भी भूमिकाएं मैंने निभायी है, वे मेरी तलाश में आयी, मैं कभी उनकी तलाश में नहीं गया।’’
उन्होंने कहा, ‘‘यहां बॉलीवुड में काम करने के लिए मुझे ऐसे मौके की तलाश थी जो मुझे दिली सुकून दें।’’ नागार्जुन ‘‘शिवा’’, ‘‘खुदा गवाह’’, ‘‘क्रिमिनल’’ और ‘‘जख्म’’ जैसी बॉलीवुड फिल्मों में काम कर चुके हैं। उनकी आखिरी बॉलीवुड फिल्म जेपी दत्ता की 2003 में आयी ‘‘एलओसी : करगिल’’ थी। नागार्जुन ने कहा कि उन्होंने इस फिल्म को करने का फैसला इसलिए किया क्योंकि उन्होंने इसे एक ‘‘दुर्लभ अवसर’’ के तौर पर देखा जो ऐसे वक्त आया है जब भारत में विभिन्न फिल्म उद्योगों के बीच प्रतिभाओं का आदान-प्रदान बढ़ रहा है।

 

Related posts

कटरीना कैफ और विकी कौशल की शादी को लेकर आया नया अपडेट, फैंस को लगेगा

GIL TV News

भोजपुरी के इस एक्‍टर ने ‘लुलिया’ से रचा ली शादी

GIL TV News

आज भी ‘भाई साहब’ कहकर ही पुकारती हैं

GIL TV News

Leave a Comment