Spiritual/धर्म

जानें-प्रदोष व्रत के दिन क्या करें और किन चीजों से करें परहेज

हिंदी पंचांग के अनुसार, हर महीने की कृष्ण और शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी को प्रदोष व्रत मनाया जाता है। मार्गशीर्ष महीने में कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी 2 दिसंबर को है। प्रदोष व्रत के दिन देवों के देव महादेव और माता पार्वती की पूजा उपासना करने का विधान है। धार्मिक मान्यता है कि प्रदोष व्रत की कथा श्रवण मात्र से व्यक्ति के जीवन से सभी दुखों का नाश होता है। साथ ही शिव पार्वती की कृपा साधक बरसती है। अतः प्रदोष व्रत के दिन श्रद्धापूर्वक भगवान शिवजी और माता पार्वती की पूजा-उपासना करें। इस व्रत के लिए कुछ कठोर नियम भी हैं। इन नियमों का पालन करने पर व्रत सफल माना जाता है। आइए जानते हैं कि प्रदोष व्रत में क्या करें और किन चीजों से परहेज करें।

Related posts

ग्रहों के अशुभ प्रभावों से बचने के लिए करें ये काम

GIL TV News

सत्येंद्र जैन के वीडियो पर भाजपा ने उठाए सवाल

GIL TV News

कारोबार में लाभ की कामना के लिए लाभ पंचमी पर करते हैं गणेश पूजन

GIL TV News

Leave a Comment