Spiritual/धर्म

कार्तिक पूर्णिमा पर करें मां लक्ष्मी के इन मंत्रों का जाप

हिंदू धर्म में कार्तिक पूर्णिमा का विशेष महत्व है। इस दिन देव दीपावली का पर्व मनाया जाता है। पौराणिक मान्यता है कि इस दिन सभी देवी-देवता स्वर्ग से नीचे उतर कर वाराणसी के घाटों पर दीपावली मनाते हैं। इस साल कार्तिक पूर्णिमा का व्रत और पूजन 19 नवंबर, शुक्रवार को किया जाएगा। साथ ही कार्तिक माह विशेष रूप से मां लक्ष्मी के पूजन को समर्पित है। शरद पूर्णिमा पर मां लक्ष्मी के अवतरण के बाद से धनतेरस और दीपावली पर विशेष रूप से लक्ष्मी पूजन किया जाता है। कार्तिक पूर्णिमा, कार्तिक माह का अंतिम दिन है इस दिन देव दीपावली के पर्व पर मां लक्ष्मी को आसानी से प्रसन्न किया जा सकता है। आइए जानते हैं कार्तिक पूर्णिमा के दिन मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के मंत्रों और पूजन विधि के बारे में…..

1-लक्ष्मी मां का बीज मंत्र

मां लक्ष्मी का आशीर्वाद पाने के लिए कार्तिक पूर्णिमा के दिन उनके बीज मंत्र का जाप कमल गट्टे की माला से करना चाहिए।

ॐ श्री ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ॐ महालक्ष्मयै नमः।।

2- सौभाग्य प्राप्ति का मंत्र

मां लक्ष्मी का यह मंत्र धन, संपत्ति और सौभाग्य प्रदान करने वाला है। इस मंत्र का जाप तिल के तेल की दिया जला कर जाप करना चाहिए।

ऊँ श्रीं ल्कीं महालक्ष्मी महालक्ष्मी एह्येहि सर्व सौभाग्यं देहि मे स्वाहा।।

3- धन की समस्या दूर करने का मंत्र

मां लक्ष्मी को धन की देवी माना जाता है। यदि आप कर्जे या धन की समस्या से परेशान हैं तो मां लक्ष्मी के इस मंत्र का जाप करें….

ऊँ ह्रीं श्री क्रीं क्लीं श्री लक्ष्मी मम गृहे धन पूरये, धन पूरये, चिंताएं दूरये-दूरये स्वाहा:। ।

4- सुख-समृद्ध प्राप्ति का मंत्र

मां लक्ष्मी के इस मंत्र का जाप करने और मां लक्ष्मी को इत्र अर्पित करने से घर में सुख-समृद्धि का आगमन होगा …

या रक्ताम्बुजवासिनी विलासिनी चण्डांशु तेजस्विनी।

या रक्ता रुधिराम्बरा हरिसखी या श्री मनोल्हादिनी॥

या रत्नाकरमन्थनात्प्रगटिता विष्णोस्वया गेहिनी।

सा मां पातु मनोरमा भगवती लक्ष्मीश्च पद्मावती ॥

5- लक्ष्मी जी का मनोकामना पूर्ति मंत्र

कार्तिक पूर्णिमा के दिन मां लक्ष्मी के इस मंत्र का जाप करने से सभी प्रकार की मनोकामनाएं पूरी होती हैं…

श्रीं ह्रीं क्लीं ऐं कमलवासिन्यै स्वाहा।

Related posts

शिवपुराण

GIL TV News

आज सूर्यास्त के बाद से शुरू होगा अश्विन मास की इंदिरा एकादशी का व्रत

GIL TV News

जन्माष्टमी पर बन रहा है विशेष संयोग

GIL TV News

Leave a Comment