Life Style

आयुर्वेद क्यों देता है भोजन के साथ फल न खाने की सलाह

अच्छी सेहत के लिए डाइट संतुलित होनी चाहिए। जिसमें मौसमी सब्ज़ियां, फल, प्रोटीन आदि शामिल होना चाहिए। जैसे आप सब्ज़ियों को दिन में तीन बार डाइट में शामिल करते हैं, ठीक उसी तरह फलों को शामिल करना भी ज़रूरी है। कच्चे फलों की दो सर्विंग आपके शरीर को ज़रूरी पोषण देते हैं। साथ ही आपकी वज़न घटाने, स्नैक्स न खाने और हाइड्रेट रहने में मदद करती है। लेकिन अगर आप चाहते हैं कि फल खाकर आपको फायदा पहुंचे, तो इसके लिए इन्हें सही समय और सही चीज़ के साथ खाने की ज़रूरत होती है।अच्छी सेहत के लिए डाइट संतुलित होनी चाहिए। जिसमें मौसमी सब्ज़ियां, फल, प्रोटीन आदि शामिल होना चाहिए। जैसे आप सब्ज़ियों को दिन में तीन बार डाइट में शामिल करते हैं, ठीक उसी तरह फलों को शामिल करना भी ज़रूरी है। कच्चे फलों की दो सर्विंग आपके शरीर को ज़रूरी पोषण देते हैं। साथ ही आपकी वज़न घटाने, स्नैक्स न खाने और हाइड्रेट रहने में मदद करती है। लेकिन अगर आप चाहते हैं कि फल खाकर आपको फायदा पहुंचे, तो इसके लिए इन्हें सही समय और सही चीज़ के साथ खाने की ज़रूरत होती है।

Related posts

क्या स्किन पर मस्से होना कैंसर की है निशानी

GIL TV News

चेहरे के दाग-धब्बों समेत झुर्रियों को खत्म कर देंगे सुपरफूड्स

GIL TV News

स्टाइलिश दिखने के लिए पहनें नये कलेवर के स्कार्फ और मफलर

GIL TV News

Leave a Comment