राजनीति

कर्नाटक कांग्रेस में भी भारी कलह

कर्नाटक में कांग्रेस के अंदर एक बार फिर मुख्यमंत्री पद को लेकर मारामारी चल रही है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सिद्धारमैया ने गुरूवार को विधायकों से कहा कि वे उन्हें आगामी 2023 के विधानसभा चुनावों के लिए मुख्यमंत्री पद के चेहरे के रूप में पेश न करें। उन्होंने कहा कि मैंने कभी नहीं कहा कि मैं मुख्यमंत्री बनूंगा, लेकिन मैं फिर भी पार्टी के विधायकों से अनुरोध करूंगा कि वे अगले मुख्यमंत्री के रूप में बयान न दें। इस मुद्दे पर पार्टी के भीतर बढ़ते मतभेदों के बीच सिद्धारमैया और कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष डीके शिवकुमार के बीच एकतरफा खेल शुरू हो गया है।

सिद्धारमैया का बयान उन विधायकों की बढ़ती सूची के बीच आया, जिन्होंने पार्टी नेतृत्व के फरमान के बावजूद खुले तौर पर उन्हें सीएम चेहरे के रूप में समर्थन दिया, जिसने शिवकुमार को नाराज कर दिया, जो मुख्यमंत्री पद की महत्वाकांक्षाओं को भी पूरा कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री के रूप में पेश करने वाले विधायकों पर लगाम लगाने के लिए कहा गया है।

वहीं, पार्टी के शीर्ष नेताओं से मुलाकात के बाद नई दिल्ली से लौटने पर, शिवकुमार ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्धारमैया कुछ विधायकों के खुले बयानों पर गौर करेंगे और अपने को मुख्यमंत्री पद पर आगे रखेंगे।बता दें कि हाल ही में कांग्रेस के कुछ नेताओं के बीच सीएम चेहरे के तौर पर सिद्धारमैया या डीके शिवकुमार को लेकर आवाज तेज होने लगी थी। जहां दोनों खेमे अपने अपने नेता को मुख्यमंत्री के चेहरे के तौर आप आगे रख रहे हैं। इससे साफ है कि कांग्रेस में मुख्यमंत्री चेहरे को लेकर दो अलग अलग खेमे बने हुए है।

Related posts

अयोध्या में भूमिपूजन पर बोले पवार

GIL TV News

कांग्रेस में नहीं थम रहा पत्र से जुड़ा विवाद

GIL TV News

गरीबी के खिलाफ लड़ाई में सभी वर्गों को साथ आना होगा: अशोक गहलोत

GIL TV News

Leave a Comment